Agnipath Scheme अग्निवीर फॉर्म हो रहा ऑनलाइन अभी करे याहा से ऑनलाइन

 Agnipath Scheme: अग्निपथ भर्ती योजना की ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी, पहले के मुकाबले इतने ज्यादा आए आवेदन

Agnipath Scheme:

 इंडियन एयरफोर्स ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर ट्वीट करते हुए जानकारी दी है कि 'अग्निपथ भर्ती योजना' की ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। इस बार पहले के 6,31,528 के मुकाबले 7,49,899 युवाओं ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी की है|


HIGHLIGHTS

अग्निवीर फॉर्म हो रहा ऑनलाइन अभी करे याहा से ऑनलाइन

https://joinindianarmy.nic.in/

अग्निपथ भर्ती योजना की ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरीपहले के मुकाबले ज्यादा आए आवेदनसरकार ने आयु सीमा को 21 साल से बढ़ाकर 23 साल कर दिया है

Agnipath Scheme

: इंडियन एयरफोर्स ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर ट्वीट करते हुए जानकारी दी है कि 'अग्निपथ भर्ती योजना' (Agnipath Recruitment Scheme) की ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। इस बार पहले के मुकाबले ज्यादा युवाओं ने अग्निपथ योजना के लिए अप्लाई किया है। एयर फोर्स ने बताया है कि इस बार पहले के 6,31,528 के मुकाबले 7,49,899 युवाओं ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी की है। 

आपको बता दें पिछले दिनों ही केंद्र सरकार ने अग्निपथ योजना के लिए ऊपरी आयु सीमा को 21 साल से बढ़ाकर 23 साल करने का फैसला किया था। रक्षा मंत्रालय ने कहा था कि पिछले दो वर्षों में कोई भर्ती नहीं होने के कारण ये निर्णय लिया गया है। इसके परिणामस्वरूप, सशस्त्र बलों में सभी नए रंगरूटों के लिए प्रवेश आयु साढ़े 17 साल से 21 साल निर्धारित की गई थी। लेकिन इसको ध्यान में रखते हुए कि पिछले दो वर्षों के दौरान कोई भर्ती नहीं हो पाई है, सरकार ने निर्णय लिया है कि 2022 के लिए प्रस्तावित भर्ती चक्र के लिए एकमुश्त छूट दी जाएगी। लिहाजा, 2022 के लिए अग्निपथ योजना के लिए भर्ती प्रक्रिया के लिए ऊपरी आयु सीमा को बढ़ाकर 23 वर्ष कर दिया गया है।

अग्निपथ योजना के खिलाफ देश भर में प्रदर्शन


सेना में भर्ती के लिए नई योजना ‘अग्निपथ’ को लेकर देश के तमाम हिस्सों में बवाल देखने को मिला है। आकांक्षी युवाओं ने ट्रेनों में आग लगा दी, बसों की खिड़कियों के शीशे तोड़ दिए और बिहार में सत्तारूढ़ भाजपा के एक विधायक सहित राहगीरों पर पथराव किया। युवाओं का यह विरोध प्रदर्शन लगातार कई दिन जारी रहा।

योजना को लेकर जताई जा रही चिंताओं को दूर करने के लिए 'मिथक बनाम सच' दस्तावेज जारी करने के अलावा, सरकार की सूचना प्रसार शाखा ने सोशल मीडिया कई पोस्ट भी किये, जिनमें कहा गया कि आने वाले वर्षों में, अग्निवीरों की भर्ती सशस्त्र बलों में वर्तमान भर्ती से लगभग तिगुनी होगी और रेजिमेंट प्रणाली में किसी भी बदलाव से इनकार किया।


एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने